Breaking News

ਕੀ ਤੁਹਾਨੂੰ ਵੀ ਨੀਂਦ ਚ ਏਦਾਂ ਲਗਦਾ ਤੁਹਾਡੇ ਉਪਰ ਕੋਈ ਤੁਹਾਨੂੰ ਦਬਾ ਕੇ ਬੈਠਾ ਹੈ, ਜੇ ਹਾਂ ਤਾਂ …..

ਜਿਹਾਂ ਨੂੰ ਨੀਂਦ ਚ ਦਬਾ ਪੈਂਦਾ ਜਰੂਰ ਦੇਖੋ ਇਹ ਵੀਡੀਓ

 

दोस्तों क्या कभी आपके साथ भी ऐसा हुवा है, कभी कभी रात में आपकी नींद अचानक खुल जाती है और आपके पसीने छूटने लगते है, आप बेड से उठने का बहुत प्रयास करते है लेकिन फिर भी आप उठ नहीं पाते है, मानो कोई शक्ति आपको बेड से बांधे हुए है, ऐसा लगता है जैसे कोई भुत प्रेत आपके सिनेपर बैठकर आपका गला दबाने की कोशिश कर रहा है, उस अवस्था में आपको सांस लेने में भी दिक्कत होने लगती है. लेकिन कुछ देर तक बड़ी कठिनाई से आप उठने में सक्षम हो जाते है और उठने के बाद आपको अजीब सा डर लगने लगता है. आपको कोई आत्मा या शैतान के करीब होने का एहसास होने लगता है. प्राचीन काल से भी इस तरह की घटनाओं के कुछ साबुत मिलते है, प्राचीन ग्रंथो में भी इसके प्रमाण मौजूद है, उनमे किसी दानवी शक्ति के प्रभाव के बारे में जिक्र किया हुवा है.

 

अनेक रजा महाराजो के साथ भी ऐसा हुवा था. आज के समय में भी ऐसी बहोत सी घटनाओ के घटीत होने के उदाहरन मौजूद है, लोगो का यह मानना है की ये कोई पर गृह से आये हुए जीवो याने की एलियंस के कारण ऐसा होता है. तो कुछ इसे शैतान का मायाजाल कहते है. लेकिन वैज्ञानिक इस बात को झुट्लाते आये है, वैज्ञानिक इस स्थिति को स्लीप पैरालिसिस कहते है. वैज्ञानिको का यह मानना है की सार्वजनिक जीवन में मनुष्य जब बड़े तनाव से गुजरता है और नींद लेने में अनियमितता होने के कारण ऐसा होना स्वाभाविक है. ऐसी स्थिति में कभी कभी मतिभ्रम याने की hallucinations होने की संभावनाएं बढ़ जाती है.

इसमें हमारे दिमाग का एक भाग जादा सक्रीय हो जाता है और वो हमें अजीबो गरीब चीजे जिनसे हम डरते है उन्हें हमारे सामने प्रकट कर देता है. लकिन आज स्लीप पैरालिसिस से किसी की मौत नहीं हुयी है. लेकिन साइंस भी इस घटना को पूरी तरह से बताने में नाकाम रहा है. हमारे मस्तिष्क के कुछ ऐसे और भी गहरे राज है जिनके बारे में विज्ञानं भी बताने में नाकाम है. सपनो के पीछे का रहस्य जानने में बहोत से वैज्ञानिक आज भी जुड़े हुए है. वाही दूसरी तरफ हम प्राचीन सभ्यताओं के अभ्यास के ऊपर एक नजर डाले तो उनमे इसके बहोत ही गहरे रहस्य छुपे हुए मिलते है.

प्राचीन ग्रंथो के मुताबिक अगर यह शैतान या किसी दानवी शक्ति का हमारे मस्तिष्क पर कब्ज़ा होता है तो वो हमें दिखाई क्यों नहीं देते है. क्या वो किसी दुसरे आयाम से हमपर हावी होने की कोशिश करते है. आयामों की परिकल्पना को तो विज्ञान भी मानता है. लेकिन इसकी वास्तविकता की पुष्टि आज तक नहीं हुयी है. फिर भी अगर आपको भी ऐसा कुछ महसूस हो तो एक बार अपने डॉक्टर से अवश्य मिले. क्या पता आपके मस्तिष्क पर तनाव होने के कारण ही ऐसा हो रहा हो. इसलिए अपने मस्तिष्क पर जादा तनाव देने की कोशिश ना करे. हमेशा स्ट्रेस फ्री रहने की कोशिश करे.

About admin

Check Also

ਆ ਆਸ਼ਕ ਕੁੜੀ ਦਾ ਕੋਈ ਹਾਲ ਨਹੀਂ ਪੜੋ ਇਹਦੀ ਚੈਟ

ਆ ਆਸ਼ਕ ਕੁੜੀ ਦਾ ਕੋਈ ਹਾਲ ਨਹੀਂ ਪੜੋ ਇਹਦੀ ਚੈਟ टेक्नोलॉजी के आने के बाद …