Breaking News

7 ਸਾਲ ਤੋਂ ਰੋਜ ਵਿਧਾਨ ਸਭ ਦੇ ਸਾਹਮਣੇ ਤਿਰੰਗੇ ਨੂੰ ਸਲੂਟ ਕਰਦਾ ਸੀ ਇਹ ਬੰਦਾ ਪੁਲਸ ਨੇ ਪੁੱਛਗਿੱਛ ਕੀਤੀ ਤਾਂ ਉਡ ਗਏ ਹੋਸ਼

7 ਸਾਲ ਤੋਂ ਰੋਜ ਵਿਧਾਨ ਸਭ ਦੇ ਸਾਹਮਣੇ ਤਿਰੰਗੇ ਨੂੰ ਸਲੂਟ ਕਰਦਾ ਸੀ ਇਹ ਬੰਦਾ ਪੁਲਸ ਨੇ ਪੁੱਛਗਿੱਛ ਕੀਤੀ ਤਾਂ ਉਡ ਗਏ ਹੋਸ਼

नई दिल्ली – हाल ही में तिरंगे और राष्ट्रगान को लेकर लोगों में घटते सम्मान को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सिनेमाहॉलों में राष्ट्रगान बजाने और इस दौरान हर व्यक्ति को खड़े होने का कानून बनाया है। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल ये है कि आखिर खुद के देश के तिरंगे और राष्ट्रगान के प्रति सम्मान दिखाने के लिए कोर्ट को कानून क्यों बनाना पड़ा। क्या हममें देश के प्रति कोई भावना ही नहीं रही। Man doing salute infront of indian flag.

घट रही है तिरंगे और राष्ट्रगान के प्रति सम्मान की भावना

हमने ऐसे कई मामले सुने होंगे जिसमें किसी शख्स ने तिरंगे और राष्ट्रगान का अपमान किया हो और उसी के कारण विवाद बड़ा हो। लोगों में आज कल तिरंगे के सामने झुकने की परम्मपरा खत्म होती दिख रही है। लोगों को अब ऐसा करना पसंद नहीं आता। लोगों ने राष्ट्रगान गाना का भी अपमान करना शुरु कर दिया है।

यह कहा जा सकता है कि तिरंगा फहराना और राष्ट्रगान का सम्मान करना देशभक्ति और आपकी भावना को दर्शाता है। लेकिन, आजकल लोग कहीं पर अगर राष्ट्रगान बज रहा हो फिर भी खड़े नहीं होते। कुछ लोगो तो ऐसे भी हैं जो किसी और को खड़ा देख उसे अनदेखा कर वहां से निकल जाते हैं। ऐसे वक्त में जब लोगों में तिरंगे और राष्ट्रगान के प्रति सम्मान कि भावना खत्म होती जा रही है ये शख्स हम सभी के लिए एक मिशाल है।

7 साल से रोज कर रहा है तिरंगे को सैल्यूट

हम बात कर रहे हैं एक ऐसे शख्स कि जो पिछले सात साल से रोजाना विधानभवन गेट के सामने लगे भारतीय झंडे को सैल्यूट करते हुए राष्ट्रगान गाता है। हीरालाल समंता नाम का ये शख्स रोजाना सुबह 9.30 पर झंडे के सामने खड़े होकर ‘जन गण मन…’ गाते हैं। हीरालाल हजरतगंज के एक होटल में काम करते हैं। उन्हें लोग ‘बंगाली बाबा’ भी कहते हैं। दरअसल, हीरालाल ऐसा युवाओं में देशभक्ति की भावना जगाने के लिए करते हैं। हीरालाल ने कहा, ‘हमें बेहद कठिनाइयों से जो स्वतंत्रता मिली है उसका आदर करना चाहिए।’ हीरालाल को यह विचार एक मूवी हॉल में फिल्म देखते वक्त आया।

हावड़ा के एक छोटे से गांव के रहने वाले हीरालाल 2010 से ही तिरंगे को सलामी देते आ रहे हैं। हीरालाल के मुताबिक, जब वह शुरू के कुछ दिन तिरंगे को सलामी देने विधानसभा आये तो उन्हें देखकर पुलिस काफी हैरान था। कई बार लोग और पुलिस वाले मुझसे ऐसा करने कि वजह पुछते हैं। लेकिन जब पुलिस को पता चला कि मैं ऐसा क्यों कर रहा हूं तो वो अब मेरी तारीफ भी करते हैं। ऐसा करते देख सभी कहते हैं कि  बंगाली बाबा अच्छा काम कर रहे हैं।

About admin

Check Also

ਆ ਆਸ਼ਕ ਕੁੜੀ ਦਾ ਕੋਈ ਹਾਲ ਨਹੀਂ ਪੜੋ ਇਹਦੀ ਚੈਟ

ਆ ਆਸ਼ਕ ਕੁੜੀ ਦਾ ਕੋਈ ਹਾਲ ਨਹੀਂ ਪੜੋ ਇਹਦੀ ਚੈਟ टेक्नोलॉजी के आने के बाद …